क्राइममध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

मोबाइल टावर लगाने के नाम ठगी करने वाला अन्तर्राज्यीय गैंग के 3 आरोपी नोयडा से गिरिफ्तार

मोबाइल टावर लगाने के नाम पर 41 लाख से भी ज्यादा की ऑनलाइन ठगी करने वाली अंतरराज्यीय गैंग का.... मंडला पुलिस ने खुलासा कर तीन आरोपियों को नोएडा से किया गिरफ्तार.....कैसे करते है ठगी.... फिर फ्लेट लेकर नोएडा में रहते है.....एक दिन में लगभग 60 से 70 नंबरों को काल कर टावर लगाने की योजना के बारे में बताते है....

मंडला पुलिस ने मोबाइल टावर लगाने के नाम पर 41 लाख से भी ज्यादा की ऑनलाइन ठगी करने वाली अंतरराज्यीय गैंग का खुलासा करते हुए 3 आरोपियों को नोएडा से गिरफ्तार किया है…करीब दो साल पहले वर्ष 2021 से आरोपियों द्वारा मोबाईल टावर लगवाने के नाम पर रिपोर्टकर्ता को कॉल किया जाता हैं…. एवं बोला जाता है…और  टावर लगाने के लिए प्रोसेस समझाई जाती है….अब यहां से शुरू होती फ्राड गिरी की कहानी आरोपियों द्वारा प्रोसेस के नाम पर पैसे एवं ने डाक्यूमेंट्स आधार कार्ड आदि मांगे जाते है….फिर जैसे ही ये धनराशि आ जाती है फिर रजिस्ट्रेशन फीस के नाम पर 18 हजार की राशि आदि ली जाती है….जो उक्त व्यक्ति इनकी बातों में आ जाते है उनसे विभिन्न प्रकार जैसे एनओसी अपने आफिसर द्वारा एप्रू बल करवाने आदि कई बातो का बहाना बताकर लगातार पैसे की ठगी की जाती है…..

इन्हीं बातों में फसाकर आरोपियों द्वारा टावर लगवाने के नाम पर खातें में रिपोर्टकर्ता से 12.07 लाख की धोखाधड़ी कर ली गयी और निरंतर धोखाधड़ी करने का प्रयास करते रहें….मामले में प्रार्थी कतकूलाल भलावी ग्राम जारगा जारगी की रिपोर्ट पर से थाना महाराजपुर में धोखाधड़ी की धाराओं में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना की गई गयी….मामले की विवेचना में एसडीओपी मंडला व थाना प्रभारी महाराजपुर को तत्काल कार्यवाही करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया था….साथ ही सायबर सेल को फ्राड में सम्मिलित ठगों का जानकारी प्राप्त करने हेतु निर्देश दिये गयें…. सायबर सेल द्वारा मामले में संदिग्ध के मोबाइल एवं ट्राजेक्शन संबंधी तकनीकी जानकारी प्राप्त कर टारगेट चिन्हित किये गये…..और फिर जानकारी के आधार पर एसडीओपी मंडला के निर्देशन में टीम का गठन कर थाना प्रभारी द्वारा तत्काल टीम को नोयडा उत्तर प्रदेश के लिये रवाना किया गया…. उप निरीक्षक सुरजीत सिंह परमार के नेतृत्व में टीम नोएडा पहुँच आरोपियों की जानकारी प्राप्त कर नोएडा सेक्टर 70 नोएडा उत्तरप्रदेश से तीन आरोपियों मंगल सिंह पिता राजेन्द्र सिंह सिकरवार उम्र 32 साल निवासी नारायण बिहार कालोनी थाना गोले का मंदिर जिला ग्वालियर (म.प्र),  जितेन्द्र सिंह पिता राम किशोर यादव उम्र 28 साल निवासी घनोरा थाना सिरोली जिला बरेली (उ.प्र) एवं ऐबरन सिह यादव पिता शंकर यादव उम्र 30 साल निवासी ग्राम थिरिया थाना शाहबाद जिला रामपुर (उ.प्र.) को गिरफ्तार कर मामले में उपयोग किये जा रहें… मोबाइल, एटीएम, रजिस्टर व अन्य दस्तावेज आरोपियों से जब्त किये गये है….

पुलिस टीम को पुछताछ में आरोपियों ने बताया की उनके द्वारा 2021-22 से टावर लगाने के नाम पर नोएडा दिल्ली में ऐबरन सिंह यादव के नाम से किराया का फ्लेट लेकर रहते है…. टारगेट के चयन आरोपियों द्वारा पंचायत दर्पण के माध्यम से पंच/सरपंच का मोबाईल नम्बर प्राप्त करते है…. फिर मोबाईल नंबर पर एक दिन में लगभग 60 से 70 नंबरों को काल कर टावर लगाने की योजना के बारे में बताते थे….आरोपियों द्वारा अपनी- अपनी भुमिका के तहत आरोपी द्वारा पंच सरपंच से बात करने उनको योजना के बारे में जानकारी दी जाती थी….सारी बात होने के बाद कॉल पर एक आरोपी डिविजनल अधिकारी के रुप में बात करते थे….एवं फिर आगे रिजनल अधिकारी से बात कराते थे इस तरह सब अपनी भूमिका में काम करते थे…. वहीं इस तरह टावर लगाने के नाम पर आरोपियों द्वारा कुल 41 लाख से भी ज्यादा की ठगी करना व एक हजार के लगभग लोगो काल करना स्वीकार किया….जो लोग टावर लगवाने के लिए तैयार हो जाते थे उनसे टावर के रजिस्ट्रेशन के लिए 5500 रुपये व डाक्युमेंट ले लेते है…. इस तरह 2-3 साल में आरोपियों द्वारा कई लोगो के डाक्यूमेंट एवं 25-30 लाख रुपये लोगो से ठगा गया है…. अकाउंट के संबंध में पुछताछ करने पर आरोपियों द्वारा बताया गया कि अकाउंट उनके द्वारा उनके एक साथी द्वारा 25 प्रतिशत के कमिशन पर उपलब्ध कराई जाती थी…. आनलाईन ठगी के माध्यम से प्राप्त पैसे एकाउंट कमिशन एवं शेष राशि आपस में तीनों बाट लेते थे…. तीनों आरोपियों द्वारा अन्य संलिप्त व्यक्तियों से भी टावर के नाम पर आनलाईन फ्राड किया गया है…. जिसके बारे में आरोपियों से पूछताछ की जा रही है…. पुलिस द्वारा देश के अन्य राज्यों में भी रिपोर्ट एवं ठगी में संलिप्त होने की जानकारी प्राप्त की जा रही है…..

देवेन्द्र चौधरी / मंडला 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker