क्राइममध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

एमपी के इस जिले के 07 नाबालिगों को महाराष्ट्र के इस जिले से कराया गया मुक्त

मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शिवराज सिंह चौहान द्वारा मानव दुर्व्यापार में संलिप्त लोगों के विरूद्ध कठोरतम कार्यवाही किये जाने के निर्देश है। उक्त निर्देशो के अनुपालन में सुधीर सक्सेना, पुलिस महानिदेशक महोदय, मध्य प्रदेश, श्री के.पी. वेंकाटेश्वर रावत अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, रीवा जोन रीवा एवं मिथलेश शुक्ला पुलिस उप महानिरीक्षक रीवा क्षेत्र रीवा के मार्गदर्शन में जिले में की गई कार्यवाही । पुलिस अधीक्षक, जिला सिंगरौली मो. यूसुफ कुरैशी द्वारा फरियादी की शिकायत को गंभीरता से संज्ञान में लेते हुये एवं तत्परतापूर्वक बंधक से मुक्त कराये जाने हेतु पुलिस टीम का गठन कर रेस्क्यू ऑपरेशन किया जाकर अपहृत एक बालक के साथ 06 अन्य बालको को भी बंधक से मुक्त कराया गया

जिले से नाबलिग बालिकाओं और युवको को प्रलोभन देकर ले जाने वाला जिले का लोकल एजेंट हुआ गिरफ्तार।

पुलिस अधीक्षक नें संबंधित कम्पनी के विरूद्ध भी कार्यवाही के दिये निर्देश । बंधक से दस्तयाब हुये सभी 07 बच्चों से पुलिस अधीक्षक मो. यूसुफ कुरैशी व्यक्तिगत रूप से रू-ब-रू होकर उनका हाल चाल लिया गया एवं उनके साथ हुये घटनाक्रम को बारीकी से पूछतांछ कर संबंधित के विरूद्ध कडी कार्यवाही किये जाने के दिये निर्देश । अहमद नगर महाराष्ट्र में पैसो की लालच देकर बेगारी के नाम पर बंधक बनाये गये जिले के 07 बच्चों को सिंगरौली पुलिस टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जाकर बंधक से मुक्त कराकर सकुशल जिला सिंगरौली में अपने परिवार से मिलाया। परिजनों ने सहदय से किया धन्यवाद । अहमदनगर महाराष्ट्र में पैसो की लालच देकर बेगारी के नाम पर बंधक बनाये गये जिले के 07 बच्चों को सिंगरौली पुलिस टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जाकर बंधक से मुक्त कराकर सकुशल जिला सिंगरौली में अपने परिवार से मिलाया। परिजनों ने सहदय से किया धन्यवाद ।

घटना का विवरण – थाना सरई चौकी निगरी में दिनांक 26/04/23 को श्यामबिहारी जायसवाल अपने बेटे के संबंध में इस आशय की रिपोर्ट किया कि हंसलाल जायसवाल उर्फ गोलू जायसवाल निवासी ग्राम कटई के द्वारा पैसों की लालच देकर मेरे बच्चे को बहला फुसलाकर महाराष्ट्र ले गया है। बच्चे के द्वारा वहाँ से आने के लिये बोला था, लेकिन उसे आने नही दिया जा रहा बताया और अब मोबाईल से भी बात नहीं हो रही है। उक्त शिकायत को चौकी प्रभारी निगरी थाना सरई के द्वारा गंभीरतापूर्वक लेते हुये पुलिस अधीक्षक को अवगत कराया गया ।  पुलिस टीम द्वारा द्वारा आरोपी हंसलाल जायसवाल उर्फ गोलू निवासी ग्राम कटई के मोबाईल लोकेशन के आधार पर अपहृत बच्चे की तलाश में अहमद नगर महाराष्ट्र गई। तलाश में यह पाया गया कि क्लासिक व्हील रिम कंपनी के एक रुम में अपहृत व्यकंट रमन को रखा गया है, पुलिस टीम लोकल पुलिस प्रशासन के सहयोग एवं कडी मेहनत से अपहृत के पास पहुंच कर दस्तयाब बच्चे को दस्तयाब किया गया । अपहृत बच्चे की दस्तयाबी उपरांत यह भी

खुलासा हुआ कि उक्त लडके के अतिरिक्त अन्य 06 लड़के जो कि सिंगरौली जिला के निवासी है उन्हें भी बंधक बनाया जाकर रखा गया है एवं बिना पैसे दिये श्रम कराया जा रहा है। ” दस्तयाब सभी 07 लड़कों ने पुलिस टीम को बताया कि पैसे की लालच देकर आरोपी हंसलाल उर्फ गोलू जायसवाल व उसके साथियों द्वारा यहाॅ लाया गया था मजदुरी का पैसा मांगने पर हमारे साथ मारपीट की जाती है एवं मजदूरी का पैसा नही दिया जाता है और कमरे में बंद करके रखा जा रहा है

उक्त गंभीर मामले के संबंध में पुलिस टीम द्वारा पुलिस अधीक्षक जिला सिंगरौली को घटना के संबंध में विस्तृत में अवगत कराया गया कि अपहृत बच्चे के अतिरिक्त अन्य 06 जो जिला सिंगरौली के है उन्हें भी बंधक बनाया गया है। पुलिस अधीक्षक सिंगरौली द्वारा मामले को गंभीरता से लेते वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुये महाराष्ट्र पुलिस प्रशासन से सिंगरौली पुलिस टीम का सहयोग प्रदान करने के लिये कहा गया । तारतम्य में अहमदनगर, महाराष्ट्र पुलिस प्रशासन द्वारा सिंगरौली पुलिस टीम का पूर्ण सहयोग करते हुये 07 लड़कों को बंधक से मुक्त कराया गया, जिन्हें सिंगरौली पुलिस टीम ने जिला सिंगरौली लाया जाकर जाँच कार्यवाही प्रारम्भ की गई। बंधक सभी 07 बच्चों से विस्तृत पूछताछ की गई तो पता चला की आरोपी हंसलाल जायसवाल उर्फ गोलू द्वारा 07 बच्चों को बहला-फुसला कर काम दिलाने के लिए अहमद नगर महाराष्ट्र ले जाया जाकर रिम कंपनी में 500-500 रुपये प्रतिदिन की मजदूरी पर सभी लड़को को काम दिलाया मजदूरी का पैसा मांगने पर आरोपी गोलू तथा रिम कंपनी के लोगो द्वारा हमारे साथ बेल्ट व पाइप से मारपीट किये व गाली गलौच देकर बोले की तुम लोगो से ऐसे ही बिना मजदूरी के बेगारी करवाएगें और दुबारा मजदूरी का पैसा मांगने पर जान से मारने की धमकी दी गई और हम सभी 07 लड़कों को एक कमरे में बंद कर दिया गया ।

पुलिस कार्यवाही – मानव दुर्व्यापार में संलिप्त आरोपी हंसलाल जयसवाल उर्फ गोलू पिता अंजनी जायसवाल निवासी ग्राम कटई, थाना सरई जिला सिंगरौली के विरूद्ध थाना सरई, जिला सिंगरौली में अपराध क्रमांक 499 / 23 धारा 370, 323, 294, 506, 342, 34 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया जाकर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया। सम्पूर्ण कार्यवाही में एस. डी. ओ. पी. देवसर श्री वीरेन्द्र धार्वे, निरीक्षक नेहरू सिंह खण्डाते, उप निरीक्षक प्रियंका सिंह बघेल, सउनि विनोद सिंह चौहान, आर.543 राजेश प्रजापति एवं जिले की सायबर सेल टीम की सराहनीय भूमिका रही है।

Article By Dharmendra Sahu

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button