मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

250 फ़ीट उचे मोबाइल टावर पर चढ़ी किशोरी कूदने की धमकी देकर प्रशासन के सामने रखी ये बड़ी मांग

15 वर्षीय किशोरी पारिवारिक विवाद के बाद ढाई सौ फीट उपर टॉवर के शीर्ष पर चढ़ी, करीब ढाई घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद नीचे उतारा गया, बेहोशी की हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा।

आगर मालवा जिला मुख्याल के समीपस्थ ग्राम निपानिया बैजनाथ में 15 वर्षीय नाबालिक आशा पिता गट्टू सिंह नाम की बालिका पारिवारिक विवाद के बाद करीब 250 फीट ऊपर मोबाईल टावर पर चढ़ गई, किशोरी करीब रात 8.30 पर टॉवर पर चढ़ी थी, इस घटना के बाद करीब रात 11 बजे एसडीओपी मोनिका सिंह, थाना प्रभारी हरीश जेजूरकर, पुलिस बल और एसडीईआरएफ के दल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे।

एसडीईआरएफ, होमगार्ड और पुलिस के जवान करीब ढाई घंटे के बड़े प्रयासो के बाद किशोरी  को नीचे लाने में सफल हुवे। इस दौरान एसडीओपी मोनिका सिंह का भी काफी सराहनीय योगदान रहा, बालिका परिवार के जिन लोगों से विवाद हुआ था उन पर कार्यवाही कर फांसी लगाने की मांग कर रही थी, एसडीओपी मोनिका सिंह ने उसे बातों में उलझा रखा और सभी लोगों को जेल भेज कर सुबह फांसी लगाने का आश्वासन देती रही, इस दौरान एसडीआरएफ का जवान और रिश्तेदार पिंटू जैसे तैसे किशोरी  के करीब पहुंचा और उसे पकड़ लिया। नीचे लाने के दौरान किशोरी  बेहोश हो गई जिसे तत्काल एम्बुलेंस से जिला चिकित्सालय पहुचाया गया ।

होमगार्ड के जवान रजत वर्मा और रिश्तेदार पिंटू ने गजब का साहस दिखाया और इस पूरे रेस्क्यू को अंजाम दिया, एसडीओपी का कहना है कि बालिका के माता पिता के माध्यम से उसकी काउंसलिंग करवाई जाएगी।

यह भी पढ़ें : शिवराज की भांजियों को अकेले ले जाकर सीएम राईज स्कूल के प्राचार्य ने की आश्लील हरकत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button