क्राइममध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

Burhar में Union Bank of India के लाकर में रखें 20 लाख के अधिक की jewellery गायब संदेह के घेरे में Bank Manager

यूनियन बैंक के लाकर से उवभोक्ता के लाखों के जेवरात हुए गायब, मामले की बैंक प्रबनधन सहित पुलिस से शिकायत, नियमो की अनदेखी करने वाला संदेह के घेरे में बैंक मैनेजर ,

मध्य प्रदेश के शहड़ोल जिले के यूनियन बैंक आफ इंडिया बुढार शाखा  से हैरान कर देने वाला एक मामला सामने आया है।  जंहा बैंक के लाकर में रखें उपभोक्ता के 20 लाख के अधिक के जेवरात गायब होने का एक मामला सामने आया  है । उपभोक्ता के लाकर से ज्वेलरी गायब होने की शिकायत  उपभोक्ता ने बैंक प्रबंधन सहित पुलिस में भी दर्ज कराई है। इस पूरे मामले में यूनियन बैंक प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। और अब जब मामला तूल पकड़ता देख बैंक के मैनेजर इस जिम्मेदारी से पल्ला झड़ते हुए उपभोक्ता पर ही आरोप लगा रहे है।  बैंक के लाकर से ज्वेलरी गायब होने से परेशान उपभोक्ता मदद की गुहार लगाते हुए जिम्मेदारों पर कबित कार्यवाही की मांग कर रहा है।  

अगर आप बैंक के लाकर में ज्वेलरी रखते है तो सावधान हो जाइए ,क्योंकि ये खबर आपके लिए बहुत जरूरी हो सकती है। जिले के बुढार थाना क्षेत्र के रहने वाले व्यवसायी  दातूमल विशनदासानी का बुढार यूनियन बैंक में बचत खाता है। जिसमे उन्होंने जब से यूनियन बैंक में लाकर की सुविधा शुरू हुई तब अपने लाकर नम्बर 149 में अपने परिवार के जेवरात लेकर में रखे थे, इस दौरान वो आवश्यकता अनुसार लाकर खोलते बंद करते रहे, ,जिसके बाद किन्ही कारणों से उन्होंने लंबे समय से लाकर में रखे ज्वेलरी को न खोला और न ही देखा ,इस दौरान 16 फरवरी को जब वे अपने लाकर को काफी प्रयासों के बाद भी नही खुला ,जिसकी सूचना बैंक प्रबंधन को दी गई, इस दौरान दूसरे दिन यानी 17 फरवरी को बैंक प्रबंधन द्वारा उक्त लाकर को उपभोक्ता के सामने खुलवाया तो जो नाजरा देखा सभी के होश उड़ गए , लाकर में रखे सभी जेवरात गायब थे, जिस पर उन्होंने बैंक प्रबंधन से इस संबंध में जानकरी देते हुए लाकर से ज्वेलरी गायब होने की वजह पूछी तो बैंक प्रबंधन ने मामले में अपना पल्ला झाड़ते हुए इस मामले से खुद को अनजान बताते हुए ,इसके लिए उन्हें जिम्मेदार ठहराने लगा, जिससे आहत उपभोक्ता  के लाकर से ज्वेलरी गायब होने की शिकायत  उपभोक्ता ने बैंक प्रबंधन सहित पुलिस में भी दर्ज कराई है। 

इस पूरे मामले में यूनियन बैंक प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। और अब जब मामला तूल पकड़ता देख बैंक के मैनेजर इस जिम्मेदारी से पल्ला झड़ते हुए उपभोक्ता पर ही आरोप लगा रहे है।  बैंक के लाकर से ज्वेलरी गायब होने से परेशान उपभोक्ता मदद की गुहार लगाते हुए जिम्मेदारों पर कबित कार्यवाही की मांग कर रहा है।  

वही इस पूरे मामले में बैंक प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जब किसी उपभोक्ता का लेकर खराब होने की स्थिति में जब लाकर को तुड़वाया या फिर किसी अन्य सोर्स से खुलावाय जाता है , तो तो बैंक के द्वारा नियमतः उसकी पूरी वीडियो ग्राफी कराई जाती है।  जो कि यूनियन बैंक के जिम्मेदारों ने नही कराई ,जो अब संदेह के घेरे में है।  

वही इस पूरे मामले में बैंक मैनेजर मीडिया के कैमरे के सामने कुछ भी कहने से बचते रहे, इस दौरान उन्होंने उपभोक्ता द्वारा आरटीआई में कुछ जानकरी मांगी है ,जिसका जवाब दिया जाएगा की बात कहते हुए अपना पल्ला झाड़ लिया, जबकि वीडियो ग्राफी नही  कराने के मामले में उन्हीने कैमरे से खुद के दूरी बना ली …

वही इस पूरे मामले में बुढार थाना प्रभारी संजय जैसवाल का कहना है कि बैंक कें लाकर से ज्वेलरी गायब होने की एक शिकायत प्राप्त हुई है। इस शिकायत का संबंध बैंक से है बैंक के आंतरिक जाच का विषय है।  बैंक द्वारा कोई जांच रिपोर्ट पेश करेगी यदि कोई अपराध बनेगा तो फिर मामला दर्ज किया जाएगा…

बहरहाल मामला चाहे जो भी लेकिन बैंक के लाकर से उपभोक्ता के ज्वेलरी गायब हो जाना गंभीर मामला है। अब इस मामले की बारीकी से जांच के बाद ही स्थित स्पष्ट हो पाएगी की लेकर से ज्वेलरी गायब होने के पीछे बैंक प्रबंधन की कोई चाल है या फिर उपभोक्ता की कोई साजिश, लेकिन बैंक प्रबंधन के द्वारा लाकर तुड़वाने के दौरान नियमतः वीडियो ग्राफी नही कराना ये कही और इशारा करती यही और संदेह को भी जन्म देता है।  

अजय शहडोल 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker