मनोरंजन

‘द केरल स्टोरी’ के निर्माता अब बनाएँगे इतिहास की सबसे बड़ी नक्सल वारदात पर फ़िल्म ‘बस्तर’ पोस्टर हुआ रिलीज

निर्माताओं के अनुसार दंतेवाड़ा जिला में हुई भीषण नक्सली घटना से “बस्तर” से प्रेरित है। फिल्म के पोस्टर पर लिखा था, 'छिपा हुआ सच जो देश को लाएगा तूफान '

अदा शर्मा की फिल्म, ‘द केरल स्टोरी’ ने 5 मई से शुरुवाती दौर से ही देश की राजनीति का अहम् हिस्सा बन गई कई हिन्दूवादी संगठनों ने तो हिन्दू महिलाओं और छात्रों को फ्री में फ़िल्म दिखाकर दावा किया कि उन्हें जागरूक किया जा रहा है वही तमाम विवादों के वावजूद फ़िल्म ने बाक्स आफिस में धूम मचा दी,केरला स्टोरी सफलता के बाद अब फिल्म निर्माता विपुल शाह और सुदीप्तो सेन की टीम ‘बस्तर’ नाम के नए प्रोजेक्ट में काम करने का ऐलान किया है फ़िल्म की टैग लाइन है ‘hidden truth that will take the nation by a stor’ मतलब छिपा हुआ सच जो देश को हिला कर रख देगा आगामी फिल्म के बैनर शाह की सनशाइन पिक्चर्स ने अपने ट्विटर पेज पर घोषणा साझा की। यह फिल्म 5 अप्रैल 2024 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

'द केरल स्टोरी' के निर्माता अब बनाएँगे इतिहास की सबसे बड़ी नक्सल वारदात पर फ़िल्म 'बस्तर' पोस्टर हुआ रिलीज
Source : Social Media

सनशाइन पिक्चर्स ने ट्वीटर पर फ़िल्म का पोस्टर शेयर करते हुए लिखा है कि हमारे अगले, #बस्तर का अनावरण। एक और दिलचस्प सच्ची घटना देखने के लिए तैयार हो जाइए जो आपको अवाक कर देगी। 5 अप्रैल, 2024 के लिए अपने कैलेंडर चिह्नित करें!

क्या है ‘बस्तर’ की स्टोरी ?

फ़िल्म निर्माताओ ने इस फ़िल्म को सत्य घटना से प्रेरित बताया है और फ़िल्म के पोस्टर में लिखा है कि ‘छिपा हुआ सच जो देश को हिला कर रख देगा’ हालाँकि इसके अलावा फ़िल्म निर्माताओ ने और कोई खुलासा नही किया है लेकिन यदि फ़िल्म के पोस्टर से कयास लगाए तो यह छत्तीसगढ़ की नक्सली समस्या से यह फ़िल्म अभिप्रेरित लगती है. छत्तीसगढ़ के बस्तर में पिछले 4 दशकों से नक्सलवाद का दंश झेल रहे बस्तर जिले के आसपास ही नक्सलियों ने अपना मुख्यालय बना रखा है.

अधिक जानकारी देते हुए, फिल्म निर्माता सुदीप्तो सेन ने ट्वीट किया “6 अप्रैल 2010. छत्तीसगढ़ के बस्तर के दंतेवाड़ा जिले के चिंतलनेर गांव में आतंकवादियों के सबसे खूनी हमले में 76 सीआरपीएफ जवान और 8 गरीब ग्रामीणों की मौत हो गई। ठीक 14 साल बाद, काव्यात्मक न्याय दिया जाएगा #बस्तर… #TheKeralaStory के बाद हमारी विनम्र प्रस्तुति। धन्यवाद #विपुलअमृतलालशाह एवं @सनशाइनपिक्चर दिल दिखाने के लिए. 4 अप्रैल, 2024 को थिएटर में मिलते हैं

क्या हुआ था 6 अप्रैल 2010 को

6 अप्रैल 2010 को छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने सुरक्षा बलों पर अब तक का सबसे बड़ा हमला किया. दंतेवाड़ा जिले के ताड़मेटला में नक्सलियों ने घात लगाकर सीआरपीएफ के 76 जवानों को निशाना बनाया. 6 अप्रैल की सुबह करीब 150 सीआरपीएफ जवान सर्चिंग के लिए निकले थे. आमतौर पर सर्चिंग के बाद लौटते वक्त जवान थके हुए होते हैं. इसी का फायदा उठाकर करीब 1000 नक्सली जवानों पर घात लगाकर जवानों के वापस लौटने के रास्ते में एंबुश लगाया था।. जैसे ही जवान पहुंचे जोरदार धमाका हुआ , इससे पहले कि जवान  कुछ समझ पाते, नक्सलियों ने उन पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। कई घंटों तक चली इस मुठभेड़ में 76 जवान शहीद हो गए और 8 नक्सली मारे गए। हमले के बाद नक्सली जवानों के हथियार और सेना के जूते भी लूट ले गए. यह देश में सुरक्षा बलों पर सबसे बड़ा नक्सली हमला था.

केरल स्टोरी के बारे में

विपुल शाह और सुदीप्तो सेन का पहला प्रोजक्ट  ‘द केरल स्टोरी’ बॉक्स ऑफिस पर सबसे सफल फिल्मों में से एक बनकर उभरी। इसमें दिखाया गया कि कैसे हजारों युवा महिलाओं को इस्लामिक स्टेट (आईएस) में शामिल होने और सीरिया और अफगानिस्तान जैसे देशों की यात्रा करने के लिए कथित तौर पर ब्रेनवॉश किया गया था।

ट्रेलर रिलीज होने के बाद से ही केरल की कहानी सवालों के घेरे में थी . फिल्म के ट्रेलर में दावा किया गया था कि केरल से 32,000 महिलाएं लापता हो गईं, कई लोगों ने अनुमानित आंकड़े पर विवाद किया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसे ‘विकृत कहानी’ कहा और राज्य में फिल्म पर प्रतिबंध भी लगा दिया था, जिसे सुप्रीम कोर्ट द्वारा राज्य सरकार से फिल्म की स्क्रीनिंग पर प्रतिबंध हटाने के लिए कहने के बाद हटा दिया गया था,इस फिल्म से अदा शर्मा ने खूब सुर्खियां बटोरी थीं.

Article By Aditya

ऐसी और जानकारी सबसे पहले पाने के लिए हमसे जुड़े

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button