जॉब

Web developer : वेव डेवलपर बन करें घर बैठे लाखों की कमाई

Web developer : भारत डिजिटल इंडिया की ओर कदम बढ़ाता जा रहा है ऐसे में हर विभाग को और हर संस्थान को बीएमडब्ल्यू पर की जरूरत पड़ती है। बीएमडब्ल्यू पर का मूल काम वेबसाइट बनाना उसे सर्वर से जोड़ करके उसे मेंटेन करना होता है।

Web developer : डिजिटल इंडिया के इस युग में अब वेबसाइट की जरूरत हर निजी कॉलेज सरकारी कॉलेज स्कूल अस्पताल यहां तक की हर व्यक्ति अब अपनी वेबसाइट बनाकर की अपनी उपलब्धियां को उसमें पोस्ट करना चाहता है कुल मिलाकर के आज के तौर पर वेबसाइट की मांग बहुत ही सी बढ़ गई है और वेबसाइट की बढ़ती मांग के बीच में बीएफ डबल पर की भी बड़ी डिमांड बढ़ गई है। आज के टाइम में बीएफ डेवलपमेंट का काम करना फायदे का सौदा हो सकता है। अगर आपकी थोड़ी बहुत भी कंप्यूटर में रुचि है तो आप वेब डेवलपर बंद करके घर बैठे लाखों कमा सकते हैं।

21वीं शताब्दी के इस कंप्यूटर युग में अब बम डेवलपमेंट के एरिया में जॉब की संभावना है काफी बढ़ चुकी है। पीवी डेवलपमेंट के लिए कई सर्टिफिकेट प्रोग्राम भी होते हैं कई डिप्लोमा प्रोग्राम भी होते हैं और डिग्री कोर्स भी उपलब्ध हैं। यदि आप सिर्फ दसवीं पास है तब भी आप इस वेब डेवलपमेंट की दुनिया में हाथ आजमा सकते हैं। यदि शुरुआती दौर पर आपके पास में पैसों की कमी है तो आप सर्टिफिकेट कोर्स करके इस फील्ड में हाथ जमाना चालू कर सकते हैं।

यह काम होता है वेब डेवलपर का

आप तो जान ही गए होंगे कि वेब डेवलपर का मूल काम वेबसाइट बनाना होता है और उसे सर्वर से जोड़ने के बाद में लगातार उसकी मेंटेन करना होता है। आजकल तो वेब डेवलपर सोशल मीडिया मैनेजमेंट के साथ-साथ कंटेंट पोस्टिंग का काम भी करने लगे हैं। वेव डेवलपमेंट की दुनिया में अपार संभावनाएं वर्तमान तौर पर देखी जाती हैं।

कितनी मिलेगी सैलरी

व्यू डेवलपमेंट की दुनिया में पैसों की संभावनाएं अपार हैं शुरुआती सैलरी 30000 से लेकर के कुछ भी हो सकती है आगे यह आपकी मेहनत लगन और आपकी वर्किंग कैपेसिटी पर डिपेंड करता है कि आप इसमें कितना कमा पाएंगे।

12वीं के बाद करें कोर्स

अगर आपने इंटरमीडिएट किया है तो आप लेटरल एंट्री के जरिए एडमिशन लेकर इस समय को कम कर सकते हैं। बीसीए, बीएससी तीन साल का कोर्स है और बीटेक चार साल का कोर्स है। इन तीनों कोर्स को करने का फायदा यह है कि आपको सरकारी और प्राइवेट संस्थानों में नौकरी मिल सकती है। क्योंकि नौकरी के लिए ज्ञान के साथ-साथ डिग्री की भी आवश्यकता होती है। बीसीए, बीएससी करने के लिए आप अपने आसपास के कॉलेज ढूंढ सकते हैं क्योंकि ये सामान्य कोर्स हैं। आसानी से उपलब्ध है. बी.टेक के लिए आपको जेईई-मेन देना होगा।

पाठ्यक्रम विवरण
  • सर्टिफिकेट
  • आईटीआई
  • डिप्लोमा
  • बीसीए
  • बी.एससी-आईटी
  • बीटेक-आईटी

युवा कहीं से भी सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं। यह छह महीने से लेकर एक साल तक हो सकता है। अगर आप सीखना चाहते हैं और अपना खुद का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो यह सबसे अच्छा माध्यम है। क्योंकि कम समय और पैसे में चीजें आसान हो जाती हैं। आईटीआई और डिप्लोमा आम तौर पर दो साल और तीन साल के कोर्स होते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker