मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

MP News : थानेदार सहित दो आरक्षक पहुँचे सलाखों के पीछे ये था मामला

मध्यप्रदेश के सागर जिला मुख्यालय के मकरोनिया थाना क्षेत्र अंतर्गत तीन फर्जी पुलिस जिसमे एक सब इंस्पेक्टर और 02 अन्य पुलिस कर्मी आमजन को धौस दिखाकर अवैध वसूली करते पकडे गए हैं

MP News : जीवन में हर किसी का सपना होता हैं की एक रौबदार नौकरी हो बड़ा सा घर हो और एक सुन्दर सी बीबी हो बस क्या इतना हो जाए तो जीवन में मौज ही मौज हैं और हां यदि नौकरी पुलिस की हो वो भी थानेदार की तो पूरा शहर सैलूट मारता हैं,लेकिन एसी रौबदार नौकरी के लिए बाकायदा कठिन परीक्षाओं से गुरजना पड़ता है मेहनत की भट्टी में खुद को झोकना पड़ता हैं लेकिन क्या यदि आप बिना कुछ किए ही मात्र वर्दी खरीदकर पुलिस बन जाए तो कितना सरल होता पुलिस बनना लेकिन एसा करने पर पुलिस तो नही बन पाएगे लेकिन पुलिस थाना में हवालात की सैर जरुर कर लेगे.

क्या हैं पूरा मामला :

मध्यप्रदेश के सागर जिला मुख्यालय के मकरोनिया थाना क्षेत्र अंतर्गत एक सब इंस्पेक्टर और 02 अन्य पुलिस कर्मी आमजन को धौस दिखाकर अवैध वसूली कर रहे थे,स्थानीयजनों को शक होने पर नजदीकी थाना में सूचना दी गई सूचना मिलते ही जब पुलिस रेलवे स्टेशन पहुची तो 03 पुलिस कर्मी पसीने पसीने हो गए उनकी घबराहट साफ़ बया कर रही थी की ये कोई पुलिस कर्मी नही बल्कि पुलिस के भेष में आमजन कोई ठग हैं.

तीनो से जारी हैं पूछताछ:

मकरोनिया थाना प्रभारी एम् के जगत से मिली जानकारी के अनुसार तीनो युवकों को थाना लाकर उसने पूछताछ की जारही हैं, थाना प्रभारी ने बताया की पूछताछ के दौरान युवकों ने अपना नाम अंकित अहिरवार निवासी ग्राम उदयपुरा टीकमगढ़, गोपाल अहिरवार ग्राम पूतरी खारा छतरपुर और सोनू अहिरवार निवासी ग्राम बंधा जिला छतरपुर होना बताया है। आरोपी अंकित ने सब इंस्पेक्टर की वर्दी पहन रखी थी। वहीं गोपाल और सोनू ने आरक्षक की वर्दी पहनी थी। तीनों ने सागर में ही किसी टेलर से वर्दी सिलाई थी।

चयन नही होने पर अपनाया ये रास्ता :

पुलिस की पूछताछ के दौरान अंकित अहिरवार ने बताया की वह सागर के मकरोनिया क्षेत्र के दीनदयाल नगर में किराए के कमरे में रहकर एसवीएन महाविद्यालय में अध्ययन कर रहा है,साथ ही वह पुलिस विभाग में भर्ती होने के लिए भी तैयारी में जुटा था लेकिन जब पुलिस चयन प्रक्रिया में वह सफल नही हो पाया तो उसने अपने परिवार जनों के बीच अपनी योग्यता साबित करने और रौबदार नौकरी के चक्कर में नकली पुलिस बनने की सोची और साथ में अपने दो मित्रों को भी अपने मिशन में शामिल कर लिया.

 

होगी कार्यवाही :

कोतवाली टी आई ने जानकारी देते हुए बताया की अभी किसी भी ने भी इन युवकों के खिलाफ थाने में अवैध वसूली को लेकर शिकायत दर्ज नही करवाई हैं फिलहाल मकरोनिया थाने में तीनों युवकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 170 और धारा 171 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया हैं,और मामले को विवेचना में लिया गया है.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button