मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

करोड़ो की बेसकीमती जमीन पर भू माफियाओं की नजर पार्षद की आपत्ति पर नही हुई कार्यवाही

Umaria News : उमरिया में एक बार फिर भू माफिया सक्रिय हो उठे हैं,और छोटे छोटे अवैध कब्जे के माध्यम से करोड़ो की सरकारी जमीन हथियाने का खाका भी तैयार किया जा रहा हैं, वही मामले की शिकायत जिले के संवेदनशील कलेक्टर तक भी पहुँच गई हैं लेकिन एक बड़े प्लान को सफल बनाने के लिए महज एक कमरा बनाकर अभी तैयार किया गया हैं यदि समय रहते इन पर लगाम लगाई नही गई तो कुछ ही मे करोड़ो की जमीन को खुर्दबुर्द करने मे ये भू माफिया पीछे नही हटेंगे।

क्या हैं पूरा मामला :

दरअसल उमरिया शहर के वार्ड नंबर 11 में पत्ता गोदाम के पीछे पड़ी करोड़ो की बेसकीमती जमीन पर अब भू माफियाओं की नजर लग गई हैं,उक्त भूमि का उपयोग वार्ड वासी मुक्तिधाम के लिए करते हैं,तत्कालीन कलेक्टर के द्वारा पार्षद के आवेदन पर उक्त जमीन का कुछ भाग श्मशान के लिए आवंटित भी कर दिया गया है। साथ ही वार्ड मे निवासरत चौधरी समाज के लिए उक्त स्थल मे सामुदायिक भवन का निर्माण भी प्रस्तावित हैं लेकिन वार्ड के निवासी मोहम्मद समीर को आगे करके सरकारी जमीन पर सड़क बनाकर अपने पट्टे आराजी की जमीन को राष्ट्रीय राजमार्ग से जोड़कर अपनी जमीन को सोने के मोल बेचने की आस में नियम कायदे कानून को ताक मे रखकर अब सरकारी जमीन पर सड़क निकालने की तैयारी चल रही हैं। यहा तक की एक बड़े गेट को लगाकर इसकी शुरुवात भी कर दी गई है।

नाम तेरा काम मेरा :

अगर बात करें तो मोहम्मद समीर की तो इनका पहले से ही वार्ड नंबर 11 में पुस्तईनी मकान बना हुआ है,सूत्रों के हवाले से खबर यह भी हैं की कोई सुमित नाम के व्यक्ति के द्वारा करोड़ो की बेसकीमती जमीन को हड़पने के लिए समीर को आगे किया गया है। और जो एक कमरा मौके पर बना हैं उसकी लाखों मे कीमत अदा कर दी गई हैं पर अब कीमत लेने वाले के ऊपर ही आगे के अतिक्रमण का जिम्मा सौपा गया है।

विरोध मे उमड़ सकता है जनसैलाब :

मामले की शिकायत वार्ड पार्षद के द्वारा कलेक्टर उमरिया के डी त्रिपाठी के साथ साथ पुलिस प्रसासन तक पहुँच गई हैं खबर यह भी हैं की सड़कों की तादाद मे आक्रोशित जन सैलाब कलेक्टर उमरिया को पुनः ज्ञापन सौपने की तैयारी कर रहा हैं।

अगले अंक में आप पढ़ेगे की किस जमीन को सोने के भाव बेचने के लिए सरकारी जमीन हड़पने की तैयारी की जा रही हैं, कौन कौन हैं इस साजिस के पीछे और हैं इनके पीछे का मास्टर माइंड

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button