मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

MP News : गड़ा धन पाने के चक्कर मे 10 लाख की ठगी का शिकार हो गए मासाब

गड़े धन के चमत्कार में ठगा गया शिक्षक, बकरे की कुर्बानी देकर धन निकालने के नाम पर ऐंठे 10 लाख से अधिक, एक आरोपी गिरफ्तार, दो फरार

MP News : शहडोल जिले में तंत्र विद्या के नाम पर एक शिक्षक से लाखों की ठगी का मामला सामने आया है। जहां एक बाबा अपने दो गुरुओं की मदद से शिक्षक के घर में बेशकीमती धन गड़े होने की कहानी रचकर बकरे की कुर्बानी देकर धन दिलाने के नाम पर 10 लाख 36 हजार रुपये ऐंठ लिए। इतना ही नहीं ठगों ने जमीन से धन खुदाई के दौरान एक जहरीला सर्प, कुछ पीतल की नकली बिस्किट निकाली। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने 3 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर मास्टर माइंड ठग को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं दो अभी भी फरार है। जिसकी तलाश सरगर्मी से की जा रही है।

सीधी थाना क्षेत्र के ग्राम पोंडी निवासी तौहीत उर्फ छोटू नामक व्यक्ति जो कि झाड़ फूक का काम करता था, उसका शिक्षक रज्जू सिंह मकाना के गांव में आना जाना था। इस दौरान रज्जू से उसके घर में धन गड़े होने की बात कही। तौहीत ने जल्द धन निकलवा ले नहीं तो घर में कोई बड़ी अनहोनी की बात कह कर डरा दिया। जिससे रज्जू उसके झांसे में आ गया। घर में लोहबान जला कर पूजा पाठ कराई और गड़ा धन कही खिसक न जाए यह कहते हुए इसमें दवा डालने के नाम पर पहले 42 हजार और बकरे की कुर्बानी कराने के नाम पर 20 हजार रुपये ऐंठ लिए, इसके बाद कठिन काम बताकर दो अन्य गुरुओं को लाया और घर के जमीन में खुदाई कराई। जिसमें सुनियोजित ढंग से एक जहरीला सांप, कुछ पीतल की बिस्किट भी निकाली और इसमें दवा डालकर धन निकलवाने के नाम पर 5 लाख 87 हजार रुपये ले गए। फिर दवा लाने के नाम पर 3 लाख 87 हजार रुपये लेकर चम्पत हो गए।

शिक्षक रज्जू ने अपनी जमीन गिरवी रखकर 7 लाख के आस पास HDFC बैंक से लोन लिया था। ठगों ने इस तरह से कुल 10 लाख से अधिक रुपये ऐंठ लिए,इस ठगी का शिकार हुए रज्जू ने थाने से लेकर उच्च पुलिस अधिकरियों से शिकायत की। जब कोई सुनवाई नहीं हुई तो परेशान होकर सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की। जिसके कई महीने बाद रज्जू की शिकायत पर बुढार पुलिस ने तौहीत उर्फ छोटू सहित दो अन्य के खिलाफ धारा 420, 120 बी के तहत मामला कायम कर तौहीत को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं अभी भी दो फरार है। जिनकी बुढार पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button