मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

मात्र 2 घण्टे में सोमिल को कोतवाली पुलिस ने कटनी जिले से किया दस्तयाब

सिंधी कॉलोनी उमरिया निवासी मनोहर विशनदासानी के घर मे उस समय अफरा तफरी का माहौल निर्मित हो गया जब कक्षा 7 में अध्ययन रत उनका बेटा सोमिल विशनदासानी का घर के आसपास कोई पता नही चला परिजनों ने तुरंत सोशल मीडिया का सहारा लिया और नगर में सर्चिंग चालू की गई लेकिन जब बेटे का पता नही चला तो इसकी सूचना शाम 4 बजे कोतवाली पुलिस को दी गई। 

यह भी पढ़ें : भाजपा नेता के जीजा के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

मामले की जानकारी लगते ही उमरिया पुलिस अधीक्षक कोतवाली पहुँचे और कोतवाली टीआई राघवेंद्र तिवारी  सहित पूरी टीम को कम से कम समय मे बालक को दस्तयाब करने के निर्देश दिए। कोतवाली टीआई राघवेंद्र तिवारी के नेतृत्व में सबसे पहले तो पुलिस ने कंट्रोल रूम में जाकर पूरे नगर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला लेकिन कुछ समय बाद उक्त बालक की लोकेशन भरौला के आगे मिली जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक उमरिया के निर्देश पर उमरिया और कटनी के बीच के समस्त थानों में सूचना दी गई । और कोतवाली पुलिस ने परिजनों को साथ मे लेकर कटनी की ओर निकल गए और शाम 6 बजे के करीब बच्चे को मझगवां टोल नाका से 3 किलोमीटर पहले दस्तयाब कर लिया गया।

यह भी पढ़े  : पैसे गिनने के नाम पर आरोपी ले उड़ा लोन के 80 हजार रुपए

यह भी पढ़ें : लोकायुक्त कार्यवाही : सहायक राजस्व अधिकारी नगर पंचायत रँगे हाथ गिरफ्तार

पापा की डांट से नाराज बेटा चल निकला था मामा घर

वही मामले की जानकारी देते हुए मनोहर विशनदासानी ने बताया कि बेटा सुबह आज लेट उठा था और मैंने मोबाइल चलाने को लेकर डांट लगा दी थी पापा की डांट से नाराज होकर के बेटा अपने मामा के यहां यानी कटनी साइकल से ही निकल पड़ा था।

यह भी पढ़ें : सड़क हादसे में माँ बेटे की मौत।

मात्र 2 घण्टे में सोमिल को कोतवाली पुलिस ने कटनी जिले से किया दस्तयाब
Photo : Social Media

यह भी पढ़ें : लूट का मास्टरमाइंड पुलिस का भूतपूर्व जवान गिरफ्तार

पिता ने दिया एसपी और कोतवाली पुलिस को धन्यवाद

बेटे को देखते ही मनोहर विशनदासानी भावुक हो उठे और उन्होंने पुलिस अधीक्षक उमरिया प्रमोद सिन्हा सहित कोतवाली टीआई राघवेंद्र तिवारी और समस्त पुलिस अमले का धन्यवाद ज्ञापित किया है उन्होंने कहा कि यदि कोतवाली पुलिस और एसपी उमरिया मामले में संज्ञान नही लेते तो मेरा बेटा इतनी जल्दी नही मिल पाता।

यह भी पढ़ें : फर्जी मस्टर रोल भरकर सचिव ने डकार ली लाखों की राशि

एसपी उमरिया का संदेश

वहीं एसपी उमरिया प्रमोद कुमार सिन्हा ने समस्त जिले वासियों से इस बात की अपील की है कि यदि कोई घटना घटित हो जाती है तो उसे अपने हाथ में लेने की वजह सबसे पहले अपने नजदीकी थाना में जाकर कि पुलिस को सूचित करें क्योंकि पुलिस को जितनी जल्दी जानकारी मिलेगी उतनी जल्दी पुलिस उस समस्या को हल करने में सक्षम होगी।

यह भी पढ़ें 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button