क्राइममध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

Crime News : साले और उसके परिवार को साथ में जलाकर मारने प्रसूता वार्ड में फरीद ने अपने ऊपर डाला पेट्रोल

Crime News : जिला चिकित्सालय में उस दौरान हडकंप की स्थिति मौजूद हो गई जब चिकित्सालय डिंडोरी के प्रसूता बार्ड में भर्ती उस एक प्रसूता से मिलने आये रिश्तेदार ने वार्ड में भर्ती मरीजों के सामने खुद पर पेट्रोल डालकर खुदकुशी करने की कोशिश की. घटनास्थल पर मौजूद लोगो की तत्परता से घटना टल गई क्योकि लोगो ने युवक को पेट्रोल डालते देखते ही युवक के हाथ से माचिस छीन ली. हालाकिं पेट्रोल के छींटे नजदीक लेती हुई प्रसूता साड़ी पर भी पड़ गए थे, यदि आग लग जाती तो स्थिति काफी विकराल हो सकती थी. घटना गुरुवार की देर 11 से 12 बजे के आसपास की घटना बताई जा रही है.

यह भी पढ़ें : पेट्रोल नही मिलने पर तीन आरोपियों ने पेट्रोल पंप में की जमकर तोड़फोड़ घटना सीसीटीवी कैमरें में हुई कैद

यह भी पढ़ें : Crime News: सड़क पर संदिग्ध अवस्था में मिली इकबाल अली की लाश परिजन जता रहे साजिश की आशंका

बंटी खान और उसके परिवार को जलाने का किया प्रयास

प्रत्यक्षदर्शी बंटी खान निवासी गड़ासरई की माने तो तो उन्होंने बताया की हम प्रसूता वार्ड में खाना कहा रहे थे,तभी फरीद खान नाम का युवक एक प्लास्टिक की बाटल में पेट्रोल लेकर आया और अपने ऊपर पेट्रोल डालकर कहा ही आज मै मार जाउगा और सबको जला दूँगा.और माचिस मारने लगा तभी मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और धक्के मारकर वार्ड से बाहर कर दिया और मैंने नर्स को आवाज लगाई नर्स ने आते ही उसका वीडियो बनाया और पुलिस को बुलाने लगी तभी फरीद खान मुझसे अपना हाथ छुड़ाकर भाग गया,बंटी ने बताया की फरीद रिश्ते में उसका जीजा लगता है.

यह भी पढ़ें : फौजी ने खुद को मारी गोली मौके पर हुई मौत

पुलिस के मौके पहुँचने से पहले भगा आरोपी

स्टाफ नर्स ने जब घटना की जानकारी अस्पताल चौकी पुलिस को दी जब पुलिस वार्ड  में पहुंची तो पेट्रोल डालकर खुदकुशी की कोशिश करने वाला उक्त युवक मौके से फरार हो गया था. प्रसूता वार्ड में मौजूद लोगो ने युवक का नाम फरीद खान डिंडोरी के भारत माता चौक का निवासी बताया जा रहा है। युवक ने बार्ड में जाकर पेट्रोल डालकर खुदकुशी करने की कोशिश क्यों की इसका पता फिलहाल नही चल पाया है लेकिन इस घटना से जिला अस्पताल में मरीजों की सुरक्षा पर बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं.

यह भी पढ़ें : Shepherd Tiger Fight:चरवाहे ने बाघ से डटकर किया मुकाबला बाघ की छाती में लात मारकर बचाई अपनी जान

सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल

सवाल यह भी है कि इतनी बड़ी घटना के बाद भी सूचना मिलने पर भी जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन मौके पर नही पहुंचे उन्होंने जिला अस्पताल के बड़े बाबू को घटना का जायजा लेने भेज दिया हैरत की बात तो यह है कि अस्पताल प्रबंधन ने घटना की लिखित शिकायत पुलिस को नही की है. अगर युवक के शरीर मे आग लग जाती तो अस्पताल में बड़ी घटना से इंकार नही किया जा सकता था.

यह भी पढ़ें : Crime News : पति को चिल्ला चिल्लाकर बताया ये लोग मुझे मार डालेंगे और स्टेशन के आउटर से हो गई गायब

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button