मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

वन विभाग को मंत्री मीना सिंह ने दिए कड़े निर्देश 22 घण्टे बाद धरना स्थल से उठाया गया युवक का शव

आठ लाख रूपये की राहत राशि मंजूर कर परिजनों के खाते मे जमा करानें के निर्देश दिए

बांधवगढ टाइगर रिज़र्व क्षेत्र अंतर्गत बाघ के  हमले से युवक मौत मामले में किसी तरह नाराज ग्रामीणों ने मंत्री मीना सिंह,कलेक्टर बुद्धेश कुमार वैद्य की समझाइश के बाद घटना स्थल से करींब 22 घण्टे बाद युवक के शव को अंतिम संस्कार करने घटना स्थल से उठाने राजी हो गए है।

आठ लाख रूपये की राहत राशि मंजूर कर खाते मे जमा करानें के निर्देश दिए

जन जातीय कार्य मंत्री सुश्री मीना सिंह ने बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व के अधिकारियों को पीडि़त परिवार को आठ लाख रूपये की राहत राशि मंजूर कर खाते मे जमा करानें के निर्देश दिए । उन्होंने बीटीआर के अधिकारियों को रिजर्व पार्क की फैसिंग बढ़ाने के निर्देश भी दिए ।  उन्होने ग्रामीणों से आग्रह किया कि वे जब भी वन क्षेत्रों में जाए तो सुरक्षा के सभी ऐतिहाती उपाय अपनाएं तथा बीटीआर एवं वन विभाग के अधिकारियों द्वारा दिए गए परामर्श का पालन करें । 

यह भी पढ़ें :  See Vedio | MP के इस जिले में आसमान से तेज रफ्तार से जमीन पर गिरे लोहे के तीन गोले खेतों में हुए गड्ढे

बताया जाता है कि कलेक्टर ने इस दौरान पार्क अधिकारियों को तत्काल फेंसिंग लगाने एवम उक्त टाइगर को तुरंत रिहायशी क्षेत्र से पृथक करने निर्देशित किया है,जिसके बाद पार्क अमला हाथी आदि की मदद से टाइगर को ट्रेस कर रहा है,और जल्द ही टाइगर को रेस्क्यू कर दूसरे वन क्षेत्र में हांक दिया जायेगा।विदित हो कि करींब दो हफ्ते पहले भी टाइगर किल से एक युवक मौत हुई थी,जिसके बाद पार्क अधिकारियों ने हाथी आदि की मदद से टाइगर को दूसरे वन क्षेत्र में भेज दिया था,परन्तु पुनः टाइगर हमले में दो हफ्ते के अंदर दूसरी इंसानी मौत हो गई है,जिससे ग्रामीणों में जमकर आक्रोश देखने को मिला,शायद इन्ही कारणों से क़ई घण्टे तक पार्क अमला घटना स्थल से दूरियां बनाये रखा,हालांकि आखिर में मंत्री मीना सिंह,कलेक्टर बुद्धेश कुमार वैद्य के साथ उप वनमण्डलाधिकारी लवित भारती पहुंचे,और ग्रामीणों को ज़रूरी समझाइश दी है।

यह भी पढ़ें :  प्राथमिक शिक्षक 5 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार

विदित हो कि मानपुर परिक्षेत्र अंतर्गत ग्राम मच्छखेता के ददरी हार में गुरुवार की शाम 5 बजे चरवाहे युवक राजबहोर पिता शिवभजन सिंह उम्र 35 वर्ष निवासी मछखेता की टाइगर हमले में दर्दनाक मौत हो गई थी,इस घटना से पूरा गांव शोकग्रस्त होने के साथ नाराज था,और घटना स्थल से शव को उठाने से मना कर दिया था।उनकी मांग थी कि पार्क अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना सम्बंध में जवाब दे।

यह भी पढ़ें :  Crime News : दो कुत्तो की लड़ाई में 2 की मौत 6 गंभीर

विदित हो कि अभी हाल के कुछ माह में गांव से सटे कुम्हई और रामपुर के करींब दो और घटनाएं घटित हुई है,जिसमे युवक मौतें हुई है।इसके अलावा मछखेता से करींब 7 किमी दूर दमना में भी बीते साल टाइगर हमले से दो इंसानी मौतें हुई है।ज़रूरी है कि जिन क्षेत्रों में टाइगर गांव के अंदर घुसकर शिकार करने लगे,उन क्षेत्रों में पार्क अमले को गम्भीरता बरतनी चाहिए।ग्राम मछखेता में भी घटनाओं से पूर्व टाइगर ने मवेशियों को गांव में घुसकर किल किया था,जिसके बाद से ही ग्रामीण दशहत में थे।

यह भी पढ़ें :  चीनी युवक ने एप के माध्यम से सिर्फ 9 दिन में 1200 लोगो को लगाया 1400 करोड़ का चूना

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button