मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

MP News : रामचरित मानस जलाने वाले पर उठी कार्यवाही की माँग

समाजवादी पार्टी का कार्यकर्ता है स्वामी प्रसाद मौर्य भगवती मानव कल्याण संगठन भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ने जताया कड़ी विरोध

MP News : भगवती मानव कल्याण संगठन एवं भारतीय शक्ति चेतना पार्टी जिला डिंडोरी के द्वारा कलेक्ट्रेट तिराहा से कलेक्ट्रेट के पास पहुंचकर प्रधानमंत्री महोदय के नाम जिलाधिकारी को कार्यकर्ताओं के द्वारा ज्ञापन दिया गया।

ज्ञापन में उल्लेख है कि विगत दिनो रामचरितमानस की प्रतियां जलाकर सनातन धर्म का अपमान करने वाले एवं देश को जाति धर्म के नाम पर बांटने की साजिश करने वाले समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर सख्त कार्रवाई किए जाने के संबंध में कार्यवाही चाही गई है।

ज्ञापन में बताया गया है कि भारत आदिकाल से ही साधु संतों ऋषि-मुनियों का देश रहा है यहां का जन-जन भगवान श्री राम भगवान श्रीकृष्ण व अपने देवी-देवताओं पर गहरी आस्था रखते हैं, उन्होंने बताया कि धार्मिक ग्रंथ राम चरितमानस ने देश की लोक आस्था के केंद्र भगवान श्री राम के जीवन का वर्णन किया गया है और भगवान श्री राम जिनका जीवन देश की नहीं अपितु संपूर्ण विश्व के लोगो का आत्म कल्याण एवं जन कल्याण का मार्ग प्रशस्त करता आ रहा है परंतु बड़े खेद का विषय है कि समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य द्वारा रामचरितमानस पर अभद्र टिप्पणी की गई और स्वामी प्रसाद मौर्य के किसी अभद्र टीका टिप्पणी के कारण समाजवादी पार्टी के अनेकों कार्यकर्ताओं द्वारा रामचरितमानस को फ़ाड़ा एवं जलाया गया।

हिंदुओं की आस्था को पहुंचाया गया ठेस

रामचरित मानस को फाडने ओर जलाने से लाखों-करोड़ों हिंदू लोगों के आस्था को ठेस पहुंची है समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा ओछी राजनीति के माध्यम से सनातन धर्म को बदनाम करने एवं देश को जाति धर्म के नाम पर बांटने की यह सोची समझी साजिश भी बताई जा रही है जिसका भगवती मानव कल्याण संगठन एवं भारतीय शक्ति चेतना पार्टी विरोध करती है। आपको विदित होगा कि भगवती मानव कल्याण संगठन एक जनकल्याणकारी संगठन है जो पिछले 30 वर्षों से धर्म सम्राट योगीराज श्री शक्तिपुत्र जी महाराज के निर्देशन में समाज को नशा मांस से मुक्त जातीयता छुआछूत एवं संप्रदायिकता जैसी महामारियों से बचाने एवं समाज के लोगों को चरित्रवान व चेतनावान बनाने की कार्य की जा रही है संगठन एवं पार्टी के लोगों ने इस अभद्र टिप्पणी और रामचरितमानस को जलाने के संबंध में संज्ञान में लेते हुए कठोर कार्यवाही की मांग की गई है।ज्ञापन कार्यक्रम में सैकड़ों संगठन व पार्टी के कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button