मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

जिला चिकित्सालय में डॉक्टर रहे 2 घंटे की काम बंद हड़ताल पर ईलाज के लिए भटकते मरीज

जिला चिकित्सालय उमरिया में पदस्थ सभी डॉक्टर आज सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक काम बंद हड़ताल पर उतर गए,ऐसे में जिले के आदिवासी अंचल और दूरदराज से आए हुए आमजन इलाज के लिए भटक रहे हैं बता दें मध्य प्रदेश चिकित्सा अधिकारी संघ के जिलाध्यक्ष डॉक्टर मुकुल तिवारी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि आज 16 फरवरी को सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक हम 2 घंटे की काम बंद हड़ताल पर थे आज इमरजेंसी सेवाओं के अतिरिक्त सभी स्वास्थ्य सेवाएं बंद पड़ी हुई है यदि हमारी मांगे आज शाम तक प्रदेश सरकार के द्वारा पूरी नहीं की गई तो कल यानी 17 फरवरी की सुबह 8:00 बजे से संपूर्ण रुप से काम बंद कर दिया जाएगा।

See Video

डॉ मुकुल तिवारी ने आगे कहा चिकित्सा अधिकारी महासंघ के तत्वाधान में 15 फरवरी से हमारा चरणबद्ध आंदोलन जारी है 15 फरवरी को हमने काली पट्टी बांधकर के मरीजों का इलाज किया था लेकिन आज 2 घंटे की काम बंद हड़ताल पर सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक बैठे हैं।

डॉ मुकुल तिवारी ने अपनी प्रमुख मांग बताते हुए कहा दूसरे विभागों की दखलअंदाजी बन्द की जाए वेतन की विसंगतियां सुधारी जाएं, डॉक्टर के साथ आयोजित होने वाली मारपीट को लेकर कोई कड़ा कानून सरकार को बनाना चाहिए, पुराने डॉक्टर का प्रमोशन क्लास वन में नहीं हो पा रहा है जबकि सरकार नए क्लास 1 डॉक्टर की भर्ती कर रही है ऐसे में इन भर्तियों को बंद किया जाना चाहिए, साथी पुरानी पेंशन भी लागू की जाए।

आपको बता दें आज 16 फरवरी को सुबह 10 बजे से 12 बजे तक कार्य बंद रखा गया है, जिसमें रूटीन कार्य दिन में ओपीडी, आईपीडी ऑपरेशन, एमएलसी और पोस्टमार्टम जैसे कार्य बंद थे वही सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं चालू रही. इसके साथ ही 17 फरवरी को सुबह 8 बजे से संपूर्ण कार्य बंद किया जाएगा. जिसके चलते ओपीडी वार्ड राउंड सहित इमरजेंसी एमएलसी पोस्टमार्टम सेवाएं भी बंद कर दी जाएंगी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button