मध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

जेल अधीक्षक ही पहुँच गई सलाखों के पीछे

वहीं गबन के मास्टर माइंड रिपुदमन सिंह को भी किया गिरफ्तार ।

उज्जैन केंद्रीय जेल गबन कांड मामले में हुई कार्रवाई ।

जेल की पूर्व अधीक्षक उषा राज पर भी मामला दर्ज ।

पुलिस ने किया उषा राज को किया गिरफ्तार ।

उज्जैन एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल ने की पुष्टि ।

दोनों को आज न्यायालय में किया जा सकता है पेश ।

पुलिस मांगेगी रिमांड, हो सकते है कई अहम खुलासे ।

यह भी पढ़ें : पेपर लीक मामले में चार आरोपियों केa खिलाफ FIR दर्ज

उज्जैन के केंद्रीय भैरवगढ़ जेल में 15 करोड़ के भविष्य निधि घोटाले मामले में पूर्व जेल अधीक्षक उषा राज को आरोपी बनाकर गिरफ्तार किया गया है । घोटाले का मुख्य सरगना रिपुदमन को भी पुलिस ने बनारस से पकड़ा है । अब तक इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों की गिरफ्तारी की है । दो दिन पूर्व रिपुदमन के घर से पुलिस ने कई दस्तावेज जब तक किए है ।

यह भी पढ़ें : एमपी के उमरिया में फूटा धर्मपरिवर्तन का भांडा, पीड़ितों की जुबानी सुन काप जाएगी आपकी रूह

उज्जैन की केंद्रीय भैरवगढ़ जेल में हुए 15 करोड़ रुपए के भविष्य निधि घोटाले में अब एक बड़ा खुलासा हुआ है । यहां पुलिस ने पूर्व जेल अधीक्षक उषा राज को मामले में आरोपी बना लिया है । दरअसल एक दिन पहले रात्रि में उषा राज को इंदौर के अस्पताल से उज्जैन लाया गया । जहां पूछताछ के बाद उन पर केस दर्ज कर गिरफ्तारी कर ली गई है । वहीं थाना भैरवगढ़ पुलिस अब उषा राज को न्यायालय में पेश कर रिमांड पर ले सकती है ।
घोटाले में पुलिस को एक और बड़ी सफलता हाथ लगी है ।

यह भी पढ़ें : Tiger Sighting at Bandhavgarh : बाघ छोटा भीम ने कही पर्यटकों रोका रास्ता तो कही बाघिन तारा के तीन बेटों के साथ आया नजर
जेल में अकाउंट का कार्य संभालने वाले प्रहरी रिपुदमन को पुलिस ने उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है । रिपुदमन पर 5000 का इनाम भी घोषित था । उसे तलाशने के लिए पुलिस की टीम रिपुदमन के भाई आरक्षक आदर्श प्रताप को लेकर बनारस उसके गांव पहुंची । घेराबंदी के बाद रिपुदमन को पकडा गया । ।

यह भी पढ़ें : लोकायुक्त ने आरक्षक को रंगेहाथों किया गिरफ्तार

गबन के इस मामले को लेकर एडिशनल एसपी इंद्रजीत बाकलवार ने बताया कि जेल अधीक्षक उषा राज को इंदौर के सीएचएल अस्पताल से लाया गया और देर रात गिरफ्तारी दर्शाई गई है । वही रिपुदमन को मिर्जापुर और बनारस के बीच से पकड़ा गया है । मामले में कार्रवाई लगातार जारी है । बैंक स्टेटमेंट लिए जा रहे है । ट्रेजरी विभाग से भी दस्तावेज जप्त किए जा रहे है । इस मामले में आने वाले समय में और भी आरोपी बढ़ेंगे ।

यह भी पढ़ें :

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button