Uncategorized

हाथ-पैरों में झनझनाहट : कभी-कभी हाथ-पैरों में हल्का सा करंट लगता है, ऐसे करें इस समस्या से छुटकारा Hands Legs Tingling

हाथ-पैर में झनझनाहट: क्या आपको भी कभी-कभी हाथ-पैरों में करंट सा या झुनझुनी महसूस होती है, तो इस समस्या का इलाज इस तरह किया जा सकता है।

शरीर के कुछ हिस्सों में सनसनी (Sensation): बहुत से लोगों को अपने हाथों और पैरों में झुनझुनी (Sensation) महसूस होती है या ऐसा महसूस होता है जैसे उन्हें हल्का बिजली का झटका लगा हो। ऐसा क्यों होता है? इस समस्या का समाधान कैसे हो सकता है? इस तरह की झुनझुनी तब शुरू होती है जब शरीर में (Vitamin B) और (Vitamin E) की कमी हो जाती है। इस विटामिन की कमी से कभी-कभी ऐसा लगता है कि चींटियां हाथों और पैरों पर रेंग रही हैं। अगर आप भी हाथ पैरों में झुनझुनी से परेशान हैं तो इसे नजरअंदाज न करें। इस समस्या को बहुत आसानी से हल किया जा सकता है। इसके लिए आप इन आसान टिप्स को फॉलो कर सकते हैं।

इस तरह की झुनझुनी को दूर करने के लिए अपने आहार में कुछ बदलाव करें। इसके साथ ही आपको कुछ जरूरी सावधानियां भी बरतनी होंगी। इन टिप्स से आप हाथ-पैर की सनसनी को दूर कर सकते हैं।

शरीर में विटामिन ई की कमी को पूरा करने के लिए एवोकाडो को डाइट में शामिल करें।

विटामिन बी के लिए आप मीट खा सकते हैं।

शाकाहारियों स्प्राउट्स और वनस्पति तेल ले सकते हैं

इसके अलावा सूरजमुखी का तेल और मूंगफली भी विटामिन बी की कमी को पूरा करने में मदद करते हैं।

सूखे मेवों में विटामिन ई पाया जाता है। बादाम विशेष रूप से विटामिन ई से भरपूर होते हैं।

अगर आपके हाथ या पैर में किसी तरह का दबाव है तो उसे हटा दें।

थोड़ा चलने की कोशिश करें।

जब चींटी का हाथ में चढ़ने जैसा लगे तो तब मुट्ठी बंद करके खोलें। कुछ देर ऐसा करने के बाद आपको आराम महसूस होगा।

विटामिन बी का स्रोत

जो लोग नॉनवेज खाते हैं वे अपने आहार में मांस, मछली, चिकन शामिल कर सकते हैं और जो लोग शाकाहारी खाते हैं वे साबुत अनाज, बीन्स, दालें या सूखे मेवे खा सकते हैं। इसे बी विटामिन का अच्छा स्रोत माना जाता है। आप अपने आहार में डेयरी उत्पादों को भी शामिल कर सकते हैं।

विटामिन ई का स्रोत

विटामिन ई के लिए आपको सूखे मेवे खाने चाहिए। इसके लिए आप एवोकाडो मिला सकते हैं। यह विटामिन ई का अच्छा स्रोत माना जाता है। विटामिन ई के लिए आप बादाम ले सकते हैं। विटामिन ई की कमी को वीट जर्म ऑयल (Wheat Germ Oil) से भी पूरा किया जा सकता है।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी घरेलू उपचार और सामान्य जानकारी पर आधारित है। इसे अपनाने से पहले, कृपया चिकित्सकीय सलाह लें। Khabarilal.net इसका समर्थन नहीं करता है।)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button