क्राइममध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

Combing Operation : 10 और 11 दिसबंर की रात अपराधियों के लिए बन गई काल,1024 आरोपियों को किया गया गिरफ़्तार

Combing Operation :1000 से अधिक अधिकारी/कर्मचारियो ने महज 6 घंटे की काम्बिंग गश्त में कुल 1024 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट कराये तामिल।कमिश्नरेट सिस्टम के एक साल में अब तक 5 काम्बिंग गश्त में कुल 3120 स्थाई व गिरफ़्तारी वारंट कराये जा चुके हैं तामिल-

Combing  Operation : दिनांक 11 दिसंबर 2022- DGP सुधीर सक्सेना द्वारा प्रदेश के पुलिस कमिश्नर एवं सभी पुलिस अधीक्षकों को कॉम्बिन्ग गश्त हेतु दिये गये निर्देश के पालन में भोपाल मे पुलिस आयुक्त मकरंद देउस्कर ने कमिश्नर कार्यालय में सभी पुलिस अधिकारी व कर्मचारी को ब्रीफ कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए एवं आरोपियों व वारंटियो की धरपकड़ हेतु टीमें बनाकर व सूची देकर क्षेत्र में रवाना किया गया था। हर जोन में DCP एव्ं ADDL DCL के नेतृत्व मे थाने की टीम एवं DCP क्राइम ब्रांच के नेतृत्व मे क्राइम ब्रांच की टीम पूरी रात सक्रीय रही एवं आरोपियों/वारंटियो की धरपकड़ की गई।

करीब 1000 पुलिसकर्मियो द्वारा रात्रि लगभग 11:00 बजे से गश्त प्रारंभ की जाकर प्रातः करीब 5 बजे तक की गई। केवल 6 घंटे की गश्त में कुल 485 स्थाई वारंट एवं 539 गिरफ्तारी वारंट समेत कुल 1024 वारंट की तामिली कराई गई। साथ ही लगभग 300 से अधिक हिस्ट्रीशीटर चेक किये गये।

गश्त के दौरान डीजीपी सुधीर सक्सेना ने पुलिस आयुक्त मकरंद देउस्कर, अतिरिक्त पुलिस आयुक्त सचिन अतुलकर के साथ थाना हनुमानगंज का भ्रमण कर काम्बिन्ग गश्त का जायजा लिया एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

गिरफ़्तार आरोपियोँ की अत्यधिक संख्या होने के कारण आरोपियों का मेडिकल कराने के लिए स्पेशल डॉक्टर्स की टीम तैयार की गई एवं न्यायालय में अतिरिक्त मजिस्ट्रेटस द्वारा कोर्टस रखी गई, साथ ही जेल मे भी अतिरिक्त व्यवस्था की गई।

 

जोनवार स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट तामीली व सर्वाधिक वारंट तामीली कराने वाले थाने-

 

  • जोन 3 क्षेत्र में 198 गिरफ़्तारी व 134 स्थाई वारंट समेत कुल 332 वारंट तामील कराए गये, जिसमे थाना हनुमानगंज पुलिस द्वारा सर्वाधिक कुल 72 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट तामील किये गए।
  • जोन 1 क्षेत्र में 111 गिफ़्तारी 146 स्थाई वारंट समेत 257 वार्ंट तामील कराए गये, जिसमें थाना जहाँगीराबाद द्वारा सर्वाधिक कुल 38 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट तामील किये गए।
  •  जोन 4 कुल 121 गिफ़्तारी एवं 115 स्थाई वारंट समेत कुल 235 वारंट तामील कराए गये, जिसमे थाना निशातपुरा द्वारा सर्वाधिक कुल 70 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट तामील किये गए।
  •  जोन 2 मे कुल 109 गिफ़्तारी एवं 90 स्थाई वारंट समेत कुल 199 वारंट तामील कराए गये, जिसमे थाना पिपलानी  पुलिस द्वारा सर्वाधिक कुल 36 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट तामील किये गए।

 

भोपाल कमिश्नरेट मे ये अब तक कुल 5 बार की जा चुकी है कॉम्बिन्ग गश्त-

 

  •  दिनांक 05-06/02/2022 कुल 268 स्थाई/गिरफ्तारी वारंट।
  •  दिनांक 25-26/03/2022 कुल 511 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट।
  •  दिनांक 20-21/06/2022 कुल 601 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट।
  •  दिनांक 19-20/09/2022 कुल 726 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट।
  •  दिनांक 10-11/12/2022 कुल 1024 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट।

 

 भोपाल कमिश्नरेट में अब तक कुल- 3120 स्थाई/गिरफ़्तारी वारंट कराये जा चुके हैं तामील-

शहर के सभी थानों में स्थाई/गिरफ्तारी वारंट की पेन्डेसी बढ़ने से, आरोपी के फरार होने व वारंट तामीली होने से न्यायालय मे प्रकरण लंबित थे। वारंट की तामिली से मामलें का निराकरण होकर पीड़ितो को न्याय मिल सकेगा। तामील कराये गये वारंटो मे मर्डर, रेप, लूट, चेक बाऊंस, फ्रॉड समेत गम्भीर व इकोनोमिक सम्बंधित अपराधी भी हैं। उक्त अभियान से निश्चित रूप से आमजन पर कारात्मक प्रभावी असर एवं अपराधियों में पुलिस/कानून का खौप बढ़ेगा। कॉम्बिन्ग गश्त आगामी समय में भी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button