देश-विदेशमध्य प्रदेशस्टेट न्यूज

Bandhavgarh :बाघ के हमले से हुई तेंदुए की हुई मौत,घर के पीछे बाघ के पगमार्क देख दहशत में ग्रामीण

बाघ ने हमला कर एक तेंदुए के शावक को मौत के घाट उतार दिया हैं घटना स्थल के पास ही बाघ के पगमार्क के निशान और तेंदुए के शरीर में बाघ के दाँतों के निशान से घटना की पुष्टि हुई

Bandhavgarh :विश्व प्रसिद्ध बांधवगढ़ टाइगर रिज़र्व में इन दिनों बाघ और तेंदुए के बीच संघर्ष बढ़ता ही जा रहा हैं बांधवगढ़ टाइगर रिज़र्व के पनपथा बफर में  दिनांक 30.11.2022 को दोपहर 11:30 बजे  करोदिया कक्ष क्रमांक PF-609 से लगे राजस्व क्षेत्र की सीमा के पास नाला में गश्ती के दौरान वनरक्षक बीट गार्ड करौदिया को एक नर तेन्दुआ (शावक) उम्र लगभग 7-8 माह को मृत अवस्था में देखा गया। घटना दिनांक 29.11.2022 की रात्रि का होना प्रतीत पाया गया हैं.

देखे गए बाघ के पगमार्क :

मौके में मृत तेन्दुआ के गले एवं शरीर के अन्य हिस्सों में बाघ के दांतों (Canine) के निशान देखे गये डॉग स्क्वाड एवं वन अमले परिक्षेत्र पनपथा बफर, परिक्षेत्र पतौर कोर य पशु चिकित्सक एवं वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन पर संयुक्त टीम द्वारा घटना स्थल के चारो ओर 500 मीटर की दूरी तक सर्विंग की गई। जिसमें सचिंग के दौरान पाया गया कि घटना स्थल के आस-पास एवं 200 मीटर की दूरी पर एक ग्रामीण के खेत में भी बाघ के पगमार्क पाये गये है।

आपसी संघर्ष में हुई तेंदुए की मौत :

मौका स्थल निरीक्षण एवं शव का प्रथम दृष्टया निरीक्षण करने पर यह प्रतीत होता है कि, उपरोक्त नर तेन्दुआ शावक को बाघ द्वारा मारा गया है। शासन द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।

 

नवंबर माह में चौथे तेंदुए की मौत :

बांधवगढ़ टाइगर रिज़र्व में हालिया एक तस्वीर इसी माह सामने आई थी जब दो नन्हे नन्हे तेंदुए अपनी माँ से बिछुड़ गए थे और दोनों की भूख और प्यास से मौत हो गई थी वही एक तेंदुए को पनपथा कोर ज़ोन में घायल अवस्था में देखा गया था जिसका आनन् फानन में ईलाज भी किया गया लेकिन उसने दम तोड़ दिया था.

 

क्षेत्र संचालक के द्वारा जारी की गई प्रेस रिलीज 

दिनांक 30.11.2022 को दोपहर 11:30 बजे वन परिक्षेत्र पपया बफर की बीट करोदिया कक्ष क्रमांक PF-609 से लगे राजस्व क्षेत्र की सीमा के पास नाला में गश्ती के दौरान श्री देवशरण सिंह, वनरक्षक बीट गार्ड करौदिया द्वारा एक नर तेन्दुआ (शावक) उम्र लगभग 7-8 माह को मृत अवस्था में देखा गया। जिसकी सूचना वनरक्षक द्वारा तत्काल मौके से वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। तत्पश्चात् वरिष्ठ अधिकारीगण तुरंत मौके पर पहुंचे। घटना दिनांक 29.11.2022 की रात्रि का होना प्रतीत होता है। मौके में मृत तेन्दुआ के गले एवं शरीर के अन्य हिस्सों में बाघ के दांतों (Canine) के निशान देखे गये डॉग स्क्वाड एवं वन अमले परिक्षेत्र पनपथा बफर, परिक्षेत्र पतौर कोर य पशु चिकित्सक एवं वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन पर संयुक्त टीम द्वारा घटना स्थल के चारो ओर 500 मीटर की दूरी तक सर्विंग की गई। जिसमें सचिंग के दौरान पाया गया कि घटना स्थल के आस-पास एवं 200 मीटर की दूरी पर एक ग्रामीण के खेत में भी बाघ के पगमार्क पाये गये है। मौका स्थल निरीक्षण एवं शव का प्रथम दृष्टया निरीक्षण करने पर यह प्रतीत होता है कि, उपरोक्त नर तेन्दुआ शावक को बाघ द्वारा मारा गया है। शासन द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: NWSERVICES Content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker