मध्य प्रदेशराजनीतिस्टेट न्यूज

हाई वोल्टेज ड्रामा : कांग्रेस जिला प्रभारी और NSUI प्रदेशाध्यक्ष का कांग्रेस कार्यकर्ताओ से फूंका पुतला तो दुसरे गुट ने समर्थन में लगाए ठुमके

खबरीलाल : विधानसभा चुनाव का आगाज लगभग हो ही चुका है, लगभग चार पंचवर्षीय से जिले की दोनों विधानसभा सीटों पर राजनितिक वनवास झेल रही कांग्रेस इस बार कुछ कर गुजर जाने के मूड में है यही कारण है की पूर्व मुख्यमंत्री पीसीसी चीफ कमलनाथ विन्ध्य में कही भी जाएँ लेकिन रास्ता उमरिया का इखितियार करते है वही पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह हो या नेता प्रतिपक्ष डॉ गोविन्द सिंह हो ताबड़तोड़ दौरे पर दौरे हो रहे है.

यह भी पढ़ें : 14 माह के बच्चे का अपहरण एसपी ने संभाला मोर्चा

इसके साथ ही कांग्रेस प्रदेश संगठन ने जिले की नब्ज टटोलने के लिए मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी में प्रदेश महासचिव  जगदीश सैनी को जिला प्रभारी के रूप में तैनात किया गया है. लेकिन आज दोपहर गाँधी चौक उमरिया में कांगेस की दो तस्वीर देखने को मिली हैं और दोनों तस्वीर ने कांग्रेस की गुटबाजी को सडक पर लाकर रख दिया है.

यह भी पढ़ें : महिला की गला रेत कर हत्या कमरे में मिली खून से सनी हुई लाश

दोपहर 12 बजे कांगेस के युवा नेताओ और कार्यकर्ताओं ने गाँधी चौक उमरिया में मौजूद होकर कांग्रेस की स्टूडेंट बिंग NSUI के प्रदेशाध्यक्ष आसुतोष चौकसे और कांग्रेस जिला प्रभारी जगदीश सैनी का पुतला फूक दिया दलील यह दी गई की हाल ही में की स्टूडेंट बिंग NSUI के प्रदेशाध्यक्ष ने प्रदेश के कई जिलों के जिलाध्यक्ष के नामों की सूची जारी की है जिसमे उमरिया जिले में यूथ कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष असलम शेर को उमरिया NSUI का जिलाध्यक्ष बनाया गया है. इसे लेकर नाराज कार्यकर्ताओ  का दावा है कि नियुक्ति नियमों को ताक में रखकर की गई है.

यह भी पढ़ें : बस और कंटेनर में हुई भिडंत 4 की मौत 14 घायल जानिए कहा का है मामला

वही दोपहर 1 बजते बजते ढोल नगाड़ों के साथ कांगेस के कार्यकर्ता दोबारा गाँधी चौक पहुचें लेकिन इस बार इन कार्यकर्ताओ के हाथ में विरोध की तख्ती नही बल्की मिठाई के डिब्बे और फूल माला थी,और ढोल नगाड़ों की धुन पर यूथ कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष असलम शेर को उमरिया NSUI का जिलाध्यक्ष बनाए जाने की ख़ुशी में ठुमके लगाते हुए कार्यकर्ता नजर आए और प्रदेश नेतृत्व का आभार जताया.

यह भी पढ़ें : Google ने की घोषणा बंद किए जाएगे Gmail Account बताई इसके पीछे की बड़ी बजह

Article By Sanjay 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button